Go to Homepage
 

राज्य में परिवार कल्याण कार्यक्रम एक दृष्टि में

वर्तमान में देश व राज्य की सबसे ज्वलन्त समस्या जनसंख्या की तीव्र वृद्धि है। इसके फलस्वरूप आवास, शिक्षा, स्वास्थ्य तथा कपडे की अपूर्णनीय मांग उत्पन्न हुई है, जो गरीबी, बेरोजगारी, भोजन एवं पानी की कमी तदनुरूप समस्याओं की जनक है। कृषि जोतो के बढ़ते हुए विभाजन से खातेदारी छोटी, अलाभक और परिवार के भरण पोषण में अपर्याप्त हो गयी है, जिसके फलस्वारूप रोजगार की तलाश में ग्रामीणों का शहरी क्षेत्रों में पलायन हो रहा है। इस असीमित वृद्धि से राज्य के पर्यावरण पर भी विपरीत प्रभाव पडा है। Read More………